Google AMP क्या है? | Google AMP के फायदे और नुकसान

0
Google AMP क्या है? | Google AMP के फायदे और नुकसान

नमस्कार दोस्तों आज के इस आर्टिकल मे हम आपको बताने वाले है Google AMP (Accelerated Mobile Page) क्या है, और Google AMP के फायदे और नुकसान क्या हैं. जी हाँ दोस्तों आज हम आपको Google AMP के बारे मे बताने वाले है यदि आप विस्तार से इसके बारे मे जानना चाहते है तो हमारे इस लेख को लास्ट तक जरूर पढे इस लेख को पढ़ने के बाद आपको Google AMP के बारे मे पूरी जानकारी मिल जाएगी ।


एक रिपोर्ट से यह पता चला है की दुनिया में करीब 80% लोग मोबाईल का इस्तेमाल करते हैं और इनमे से हर कोई आज Internet का इस्तेमाल अपने फोन से करते है और इसी User Experience को बेहतर करने के लिए Google ने AMP की शुरुवात की ताकि लोग अपनी मोबाईल में कोई भी Website बड़ी जल्दी और आसानी से खोल सकते हैं।

AMP Ka Full Form Kya Hai?

Google AMP का full form – Accelerated Mobile Pages होता है।


Google AMP क्या है?

Google AMP यह एक Open Source Framework है, जो मोबाइल पर Website की Loading Speed को बढ़ाने का काम करता है। आज कल अधिकतर लोग लैपटॉप, कंप्यूटर से ज्यादा मोबाइल का इस्तेमाल करते हैं और सबसे ज्यादा Blogs और Website भी मोबाइल फोन यूजर द्वारा ही देखी जाती है, जिससे Website पर सबसे ज्यादा Traffic Mobile यूजर द्वारा ही बढ़ता है। लगभग 70-75% लोग मोबाइल का Use करते है। इसलिए Google ने Website को मोबाइल में और अधिक Fast Loading बढाने के लिए AMP की शुरुआत की ताकि User सभी Website को मोबाइल में Fast Load कर सके और यूजर उन Website को देखने या पढने के लिए Attract हो।


AMP में HTML, JS और Cache Libraries होती है जिसकी मदद से किसी भी website को ज्यादा User specific बनाती है और इसमें Rich content जैसे PDFs, video or audio होने के वाबजूद उसके load time को accelerate करती है mobile device के लिए.

Accelerated Mobile Pages या AMP bare-bone version होता है किसी भी website’s mobile pages का. ये application केवल उन्ही चीज़ों को display करता है जो की किसी website के pages में सबसे महत्वपूर्ण होता है और दूसरी चीज़ें जो की Website को load होने में समय लगाते हैं उन्हें ये ignore करता है।

ऐसे में automatically mobile pages बहुत ही fast खुलती है. जिससे users को भी अधिक समय मिलता है website के content को पढने के लिए.


Google AMP Kaise Kaam Karta Hai?

Google AMP किसी भी Site की Loading Speed को बढ़ाने का काम करता है। जब कोई यूजर इसका Use करता है, तो Site के Page को मोबाइल डिवाइस में Open करने पर सिर्फ उसका जरूरी Content लोड हो जायेगा जिसे हम पढ़कर समझ सकते हैं। यह सिर्फ जरुरी Content को ही दिखता है।

यह उन सभी चीजों जैसे- Title, Article में लिखे शब्द, और Heading आदि को जिससे Website लोड होने में Problem आती है उन्हें Ignore कर देता है, जिससे आप Page को आसानी से मोबाइल पर Open कर सकते हैं। AMP के Pages को Javascript और Css3 से Customize किया जाता है इसके सभी Pages Cached होते हैं। जब भी Website में AMP Pages Enable होते हैं और जब भी Website को Open करते हैं तब Site के Main Content ही लोड होते हैं, जिससे Site Fast लोड हो जाती है।


Google AMP Ka Setup Kaise Kare?

Google AMP का Setup करना बहुत ही आसान है नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करके आप Google AMP का Setup कर सकते है तो चलिए जानते है इसके बारे में

  • Plugin Install

सबसे पहले आपको अपने WordPress की Official Website पर AMP और Accelerated Mobile Pages Plugin Install और Active करना है ।

  • Customize AMP

जब आप इन दोनों Plugin को Install कर लेते है तब आप इन Plugin को अपने हिसाब से Google AMP Pages Customize कर सकते है।


  • Configure

दोनों Plugin को Active करने के बाद आपके WordPress के Left Side में AMP का Option दिखाई देगा जिस पर क्लिक करने पर आपको बहुत सारे ऑप्शन मिलेंगे जैसे –

  • AMP General Setting

AMP Plugin Site में आप Logo भी लगा सकते है और Google Analyticle Tracking भी लगा सकते है, अगर आप और कुछ Setting करना चाहते है तो कर दे अन्यथा ऐसी ही रहने दे। AMP की सारी Setting करने के बाद Save Changes पर क्लिक कर दे।

  • AMP Advertisement

Google AMP Ads के Option में आप अपने Google Adsense Ads लगा सकते है पर याद रहे की आपको यहाँ पर Adsence Code नही लगाना है इसके अंदर आप सिर्फ Adsense Account का Pub Id और Data-ad-slot Id Enter करनी है।


  • AMP Social

अगर आप Social Sharing Icon दिखाना चाहते है तो इसके लिए आपको इन पर Account बनना होगा जैसे आपको यहाँ पर Facebook Off लिखा हुआ दिखाई देगा अगर आप Facebook Sharing Option On करना चाहते है तो इसके लिए आपको यहाँ पर Facebook Id बनानी होगी होगी|

जब Id बन जाए तब आप उस Id को AMP Option में डालकर Facebook Sharing Option On कर सकते है, Configuration के साथ-साथ आपको सारी Setting को सेव करना।

अगर आप अपनी Site को देखना चाहते है की आपकी Site AMP Page में चेंज हुई की नही इसके लिए आप अपने मोबाइल में किसी भी URL के आगे AMP लगा दे जैसे की – Hindinut. Com/AMP


AMP (Accelerated Mobile Pages) के फायदे

1. Website की loading time को speed up करता है

AMP की वजह से Websites की loading time बहुत तेजी से होता है, ये फालतू के Extension को load नहीं करता जिससे sites fast खुलती है.

2. किसी Website के Server Performance को बढाता है

Websites fast खुलती हैं जिससे website में बहुत ज्यादा ट्रैफिक आता है और जिससे server के ऊपर ज्यादा load नहीं पड़ता और Server Performance बढ़ जाती है.

3. Mobile Ranking को बढ़ाने में मदद करता है

इससे sites fast खुलती है जिससे website की response टाइम अच्छी हो जाती है और ट्राफीक भी बढ़ने लगता है और ultimately इससे mobile ranking बढती है.


4. Mobile Users को Surfing करने में मदद करता है

जैसे की हम जानते हैं की mobile में surf करना कितना मुस्किल होता है अगर वो slow load हो रहा हो तब. लेकिन AMP की मदद से loading time बहुत हद तक कम जाता है जिससे Mobile users की surfing में मदद मिलती है.

5. Informational Websites के लिए ये वरदान है

ये Information Websites के लिए इसलिए वरदान है क्यूंकि इन websites में ज्यादा videos या pictures नहीं होती और इनमें Text ज्यादा होती है और यदि ये फालतू के extension हट जाये तो website automatically fast हो जाती है.


AMP (Accelerated Mobile Pages) के नुकसान

1. website की performance बढता है

Cache की मदद से Website की performance बढती है लेकिन ये उस website के लिए negative effect डालता है क्यूंकि इसमें बहुत सी cache memory केवल site को store करने में इस्तेमाल हो जाती है.

2. Analytics के ऊपर ख़राब प्रवाह डालता है

AMP Google Analytics को support जरुर करता है लेकिन इसके लिए उन AMP pages में बहुत सारे अलग अलग tags का इस्तमाल करना पड़ेगा और ये इतना आसन नहीं है इसे impliment करने के लिए. और ये कुछ मात्रा में analytics का usage website में कम कर देता है. जो की website के ऊपर ख़राब प्रवाह डालती है.


3. Advertisement Revenue को कम करना 

जैसे की हम जानते हैं की AMP की इस्तमाल से website में Advertisement की मात्रा बहुत हद तक कम हो जाती है जिससे इसके advertisment revenue में काफी घाटा होता हैं और bloggers को अपनी earnings से कुछ हिस्सा खोना पड़ता है.

4. E-Commerce website के लिए अच्छा नहीं है

E-Commerce Websites में सबसे ज्यादा ads होते हैं और वहां product को show करने के लिए ज्यादा pictures होते हैं और text सबसे कम होती है. AMP के इस्तमाल से ये सभी चीज़े हट जाएँगी जिससे की उनके revenue में असर पड़ेगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here