KYC Kya Hai ? | KYC Full Form In Hindi

0
KYC क्या होता है?

नमस्कार दोस्तों आज के इस आर्टिकल मे हम बात करने वाले है KYC के बारे मे, KYC का नाम आपने कही ना कही तो जरूर सुना होगा पर क्या आपको पता है कि KYC क्या होता है?, KYC का फूल फॉर्म क्या होता है ? अगर नहीं तो आप इस लेख को विस्तार से लास्ट तक पढे आप को सब कुछ समझ मे आ जाएगा KYC के बारे मे ।


KYC Kya Hai In Hindi?

KYC Full Form In Hindi

KYC का मतलब Know Your Customer यानी अपने ग्राहक को जानें- होता है।

KYC Kya Hai In Hindi?

KYC बैंकिंग और फाइनेंस के क्षेत्र में इस्‍तेमाल होने वाला एक प्रचलित टर्म है। बैंक और फाइनेंशियल इंस्‍टीट्यूशंस अपने ग्राहक की पहचान और उसके पते को सत्‍यापित करने के लिए KYC का प्रयोग करते हैं।


इसे आप बैंकिंग के क्षेत्र में देखें तो हर 6 महीने पर या 1 साल पर बैंक अपने ग्राहकों से केवाईसी फॉर्म भरने के लिए कहता है। इस केवाईसी फॉर्म में अपना नाम, बैंक अकाउंट का नंबर, पैन कार्ड नंबर, आधार कार्ड नंबर, मोबाइल नंबर और पूरा पता भरना होता है। इस तरह बैंक को ग्राहक की सभी जानकारियां प्राप्त हो जाती है।

बैंक के तरफ से 6 महीने बाद या 1 साल बाद इसलिए केवाईसी फॉर्म भरवाया जाता है कि अगर इस बीच ग्राहक ने अपनी व्यक्तिगत सूचना में से कोई सूचना बदली होगी, तो KYC फॉर्म के जरिये नई सूचना अपडेट हो जाएगी।


KYC क्यों जरूरी है?

कोई भी बैंक या कंपनी KYC प्रक्रिया के अंतर्गत, अपने ग्राहक के पते और उसके बारे में कुछ आवश्यक जानकारियाँ लेती है। यह इसलिए महत्वपूर्ण है, ताकि कोई व्यक्ति यदि धोखाधड़ी के इरादे से अपनी गलत पहचान बताता है, तो वह आसानी से पकड़ा जाये। यह किसी बैंक या कंपनी के लिए बहुत ही आवश्यक है क्योंकि यह अपराधिक गतिविधियों को कम करता है। बैंक में अकाउंट खोलने, म्युचुअल फंड अकाउंट, बैंक लॉकर्स तथा ऑन लाइन म्युचुअल फंड खरीदने और सोने में निवेश के लिए KYC करवाना जरूरी होता है।


KYC कराने के लिए Documents 

KYC प्रक्रिया के दौरान ग्राहक को फॉर्म भरना होता है और उसके साथ वेरिफिकेशन के लिए कुछ आवश्यक दस्तावेज़ की प्रतिलिपि (Photocopy) जमा करनी होती है। KYC के लिए आपको नीचे दिए गए दस्तावेज़ों की आवश्यकता होती है –

  • ड्राइविंग लाइसेंस (Driving License)
  • वोटर आईडी (Voter ID)
  • पासपोर्ट (Passport)
  • आधार कार्ड (Aadhaar Card)
  • पैन कार्ड (PAN Card)

इसके साथ आपको अपने एक photo और आधार कार्ड देना पड़ता है। सभी documents लेकर आपको यह बैंक में जमा करने पड़ते है।


अगर KYC नहीं कराया तो क्या होगा?

बैंक की वेबसाइट पर दी गई जानकारी के मुताबिक, ग्राहक को नए केवाईसी डॉक्युमेंट के साथ बैंक जाकर या फिर ऑनलाइन अपडेट कर इन्हें पूरा करना होता है.

बैंक का कहना है कि अघर केवाईसी पूरी नहीं होती है तो खाते में भविष्य में किए जाने वाले लेन-देन पर रोक लगाई जा सकती है.

यह भी पढे : Facebook का Password कैसे Change करें?

IP Address क्या होता है ? | IP Address कैसे काम करता है ?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here