Neeraj Bishnoi Biography In Hindi | नीरज बिशनोई का जीवन परिचय

0
नीरज बिशनोई

Bulli Bai App Creator Neeraj Bishnoi Biography, Wiki, Age, Girlfriend, Career, Family & Other


Neeraj Bishnoi: 20 वर्षीय नीरज बिश्नोई इंजीनियरिंग कॉलेज के द्वितीय वर्ष के छात्र हैं। नीरज बिश्नोई पर मुस्लिम महिलाओं की तस्वीरों की नीलामी करने वाले ‘बुली बाई’ ऐप का मास्टरमाइंड होने का आरोप है। आरोप है कि नीरज ने न सिर्फ इस ऐप को बनाया बल्कि वह इसका ट्विटर हैंडल भी चलाता था।, जिसे दिल्ली पुलिस ने असम से गिरफ्तार किया है. वहीं नीरज बिश्नोई का लैपटॉप जब्त कर लिया गया है.


नीरज बिशनोई का जीवन परिचय

पूरा नाम  नीरज बिश्नोई
जन्म तिथि  ज्ञात नहीं
जन्म स्थान  भारत
उम्र  20 वर्ष
राष्ट्रीयता  भारत
पेशा  विद्यार्थी
निवास स्थान दिगंबर जोरहाट, असम
एप  Bulli Bai App
शिक्षा  B.Tech
प्रसिद्ध  Bulli Bai App मामले मे

Bulli Bai App Kya Hai In Hindi?

  • बुल्ली बाई(Bulli Bai App) लोगों को बरगलाने और वित्तीय लाभ कमाने के लिए देश भर में एक संदिग्ध समूह (उनमें से अधिकांश की पहचान अभी बाकी है) द्वारा विकसित एक एप है।
  • एप को बनाने के पीछे का मकसद भारतीय महिलाओं (ज्यादातर मुस्लिम) की नीलामी के लिए रखना और बदले में पैसा कमाना है।
  • ‘बुल्ली बाई’ एप माइक्रोसॉफ्ट के मालिकाना हक वाली ओपन सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट साइट GitHub पर बनाया गया था।
  • बुल्ली बाई जैसी घटनाओं में, साइबर अपराधी इंटरनेट से लोकप्रिय महिलाओं, सेलेब्स, प्रभावशाली लोगों, पत्रकारों आदि की तस्वीरें लेते हैं और उनका उपयोग अपने वित्तीय लाभ के लिए करते हैं।



  • ये ऑनलाइन स्कैमर्स सोशल मीडिया अकाउंट से इन महिलाओं की तस्वीरें चुराते हैं और उन्हें प्लेटफॉर्म पर लिस्ट कर देते हैं। इसलिए इन महिलाओं को हमेशा अपनी प्रोफाइल को लॉक करके रखना चाहिए या अपनी प्रोफाइल को प्राइवेट रखना चाहिए।
  • एप पर प्रोफाइल में पीड़ितों की फोटो और दूसरे पर्सनल डिटेल शामिल थे, जो महिलाओं की सहमति के बिना बनाई गई और शेयर किए जा रहे थे।
  • ट्विटर पर बुल्ली बाई एप से कई पोस्ट शेयर होने के तुरंत बाद, सरकार ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म को ऐसे अपमानजनक पोस्ट को तत्काल प्रभाव से हटाने का निर्देश दिया।



नीरज बिशनोई के पिता क्या बोले इस मामले मे –

नीरज बिशनोई के पिता दशरथ बिश्नोई ने बताया, “हमारी दो बेटियां और एक बेटा है। नीरज सबसे छोटा है। कल पुलिस की टीम हमारे घर आई और नीरज के बारे में पूछा। टीम लगभग 45 मिनट हमारे घर पर रही और हमारे घर की तलाशी ली। जाने से पहले, उन्होंने मेरे बेटे को हिरासत में ले लिया और उसका मोबाइल और लैपटॉप जब्त कर लिया।”

नीरज के पिता ने दावा किया कि उनका बेटा निर्दोष है और वह कोई गलत काम नहीं कर सकता। दशरथ बिश्नोई ने कहा कि नीरज ने हमें बताया कि वह किसी भी गलत काम में शामिल नहीं था। उसने दिल्ली पुलिस की टीम को यह भी बताया कि वह निर्दोष है और हो सकता है कि किसी ने उसकी फोटो का इस्तेमाल किया हो।


नीरज के पिता ने बताया कि उनके बेटे ने सेंट मैरी स्कूल से 86 प्रतिशत अंकों के साथ 10वीं पास की थी। नीरज को राज्य सरकार से एक लैपटॉप भी मिला था। नीरज के पिता ने कहा कि उनकी आर्थिक स्थिति इतनी अच्छी नहीं है।

उन्होंने कहा, ” नीरज हर दिन रात 11 बजे तक ज्यादातर समय लैपटॉप पर काम करता रहता था। नीरज को 2019 में वेल्लोर इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, भोपाल में एडमिशन मिला, लेकिन वह घर से ही ऑनलाइन क्लास अटेंड कर रहा था।


नीरज बिशनोई के बारे मे कुछ तथ्य 

  • 20 वर्षीय नीरज बिश्नोई इंजीनियरिंग कॉलेज के द्वितीय वर्ष के छात्र हैं।
  • बुल्ली बाई ऐप के निर्माता हैं।
  • दिल्ली पुलिस, असम की स्पेशल सेल की इंटेलिजेंस फ्यूजन एंड स्ट्रैटेजिक ऑपरेशंस (IFSO) यूनिट ने गुरुवार को 21 वर्षीय नीरज बिश्नोई को गिरफ्तार किया।
  • नीरज बिश्नोई द्वारा बनाए गए ‘बुली बाई’ ऐप का इस्तेमाल वर्चुअल ‘नीलामी’ के लिए उनकी सहमति के बिना सैकड़ों मुस्लिम महिलाओं की तस्वीरें अपलोड करने के लिए किया गया था। ऐप ने भारत में बड़े पैमाने पर आक्रोश पैदा किया।
  • नीरज बिश्नोई ने पुलिस को बताया कि गिटहब ऐप को नवंबर 2021 में विकसित किया गया था और आखिरकार अगले महीने इसे अपडेट कर दिया गया। ट्विटर अकाउंट 31 दिसंबर को बनाया गया था। उन्होंने कहा कि उन्होंने ऐप के बारे में ट्वीट करने के लिए @Sage0x1 अकाउंट भी बनाया है।



  • नीरज बिश्नोई भोपाल में वेल्लोर इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी से बी.टेक द्वितीय वर्ष के छात्र हैं। उन्हें उनके कॉलेज से सस्पेंड कर दिया गया है।
  • इससे पहले मुंबई पुलिस ने इस मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया था। इनमें 18 वर्षीय श्वेता सिंह, 21 वर्षीय मयंक रावल और 21 वर्षीय विशाल कुमार झा शामिल हैं।
  • नीरज बिश्नोई की गिरफ्तारी इस मामले में चौथी गिरफ्तारी है।
    सूत्रों के अनुसार बताया जा रहा है कि पूछताछ के दौरान बुल्ली बाई ऐप के निर्माता नीरज बिश्नोई ने कहा कि मुझे कोई पछतावा नहीं है. नीरज बिश्नोई ने कहा कि मैंने जो किया है सही किया है
  • शुरुआती पूछताछ में पता चला कि नीरज पूरे मुस्लिम समुदाय से नाराज था और उन महिलाओं को निशाना बनाता था जो मुस्लिम विचारधारा के साथ सोशल मीडिया अकाउंट्स पर बहुत सक्रिय थीं।
  • नीरज बिश्नोई ने बताया कि उन्होंने Github पर बुल्ली बाई ऐप के साथ-साथ ट्विटर पर @bullibai_ अकाउंट भी बनाया है।
  • जीथब अकाउंट ऐप को नवंबर 2021 में विकसित किया गया था
  • ऐप को दिसंबर 2021 में अपडेट किया गया था। इसके साथ ही इसने @sage0x1 नाम का एक ट्विटर अकाउंट भी बनाया।
  • नीरज बिश्नोई के बुल्ली ऐप के अलावा 6 महीने पहले हुए सुली डील मामले में कोई भूमिका सामने नहीं आई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here