Yogi Adityanath Biography In Hindi | योगी आदित्यनाथ का जीवनी

0
Yogi Aadityanath Biography
Yogi Aadityanath Biography

Yogi Adityanath Biography in Hindi] (Age, Full Name, News, Wife, Status, Caste, Contact Number

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ उत्तराखंड के पौड़ी जिले में स्थित यमकेश्वर ब्लॉक के पंचूर गांव में जन्म हुआ था. गोरखपुर में महंत अवैद्यनाथ से दीक्षा लेने के बाद उनका नाम योगी आदित्यनाथ पड़ा.

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की गिनती आज देश के सबसे प्रभावशाली नेताओं में होती है. गोरखपुर से लगातार पांच बार लोकसभा सांसद रह चुके योगी फायर ब्रांड हिंदूवादी नेता हैं. हालांकि, अपने स्कूल के दिनों में वो बेहद शर्मीले स्वभाव के हुआ करते थे. योगी आदित्यनाथ के यूपी का मुख्यमंत्री बनने की कहानी बेहद दिलचस्प है. योगी के जन्मदिन पर हम आपको बताएंगे कि उन्होंने अजय सिंह बिष्ट से योगी आदित्यनाथ बनने का सफर कैसे पूरा किया.

Yogi Adityanath Biography In Hindi | योगी आदित्यनाथ का जीवनी

नाम (Name) योगी आदित्यनाथ
असली नाम (Real Name ) अजय सिंह बिष्ट
अन्य नाम (Other Name ) महंत योगी आदित्यनाथ
निक नेम ( Nick name) योगी
जन्म तारीख (Date of birth) 5 जून 1972
उम्र (Age) 49 साल (2022 में )
जन्म स्थान (Place of born ) पंचुर जिला, पुरी गढ़वाल, उत्तराखंड, भारत
शिक्षा (Education ) गणित में स्नातक (बीएससी)
स्कूल (School ) पुरी प्राइमरी स्कूल, उत्तराखंड
कॉलेज (Collage ) गढ़वाल यूनिवर्सिटी, श्रीनगर, उत्तराखंड
राशि (Zodiac Sign) मिथुन राशि
गृहनगर (Hometown) गोरखपुर, उत्तरप्रदेश, भारत
लंबाई (Height) 5 फ़ीट 4 इंच
आँखों का रंग (Eye Color) काला
बालो का रंग( Hair Color) काला
नागरिकता(Nationality) भारतीय
धर्म (Religion) हिन्दू
जाति (Cast ) ठाकुर
आध्यात्मिक गुरु (Spiritual Guru) महंत अवैद्यनाथ महाराज
पेशा (Occupation) भारतीय राजनीतिज्ञ, धार्मिक मिशनरी
राजनितिक शुरुआत (Debut) 1998 में जब वे पहली बार सांसद बने
राजनीतिक दल (Political Party) भारतीय जनता पार्टी (भाजपा)
वैवाहिक स्थिति (Marital Status)   अविवाहित (ब्रह्मचारी)
कुल संपत्ति (Net Worth ) लगभग 72 लाख प्रति वर्ष

योगी आदित्यनाथ का जन्म व प्रारंभीक जीवन 

अजय सिंह बिष्ट 5 जून 1972 को उत्तराखंड में पौड़ी जिले के पंचूर गांव में जन्मे थे. अजय के पिता का नाम आनन्द सिंह बिष्ट था वो एक फॉरेस्ट रेंजर थे और उनकी माता का नाम सावित्री देवी है. बीते साल उनके पिता का निधन हो चुका है. सात भाई-बहनों में अजय पांचवें थे. उनसे तीन बड़ी बहन व एक बड़े भाई हैं. उनके बाद दो छोटे भाई हैं.

अजय ने आठवीं तक की शिक्षा उन्होंने गांव के स्कूल से ही ली. उनके पिता बताते थे कि योगी बचपन से ही पढ़ाई में होशियार रहे. योगी ने मैट्रिक की परीक्षा गजा के एक स्कूल से पास की, हाईस्कूल में वो फर्स्ट रहे थे.  ऋषिकेश के श्री भरत मंदिर इण्टर कॉलेज से इन्होंने इंटरमीडिएट की परीक्षा पास की. कोटद्वार के एक कॉलेज से उन्होंने बीएससी की. फिर ऋषिकेश से उन्होंने एमएससी की डिग्री हासिल की.

उनके माता-पिता ने उनका नाम अजय रखा था और उनका असली नाम अजय मोहन बिष्ट है। उनकी दीक्षा के बाद, उन्हें “योगी आदित्यनाथ” नाम दिया गया। उनके पिता, आनंद सिंह बिष्ट एक वन रेंजर थे, जिनकी 20 अप्रैल 2020 को एम्स, नई दिल्ली में पुरानी बीमारी से मृत्यु हो गई थी।

उनकी मां सावित्री देवी गृहिणी हैं। वह अपने परिवार में चार भाइयों और तीन बहनों के बीच दूसरे स्थान पर है। उनकी बहन शशि (3 बहनों में सबसे बड़ी) उत्तराखंड में चाय की दुकान चलाती हैं। वह कहती है कि वह पहाड़ियों में खुश है और स्थानांतरित नहीं होना चाहती।

उनके सबसे छोटे भाई, शैलेंद्र मोहन, गढ़वाल स्काउट्स यूनिट में सूबेदार हैं और भारत-चीन वास्तविक नियंत्रण रेखा के पास तैनात हैं।

योगी आदित्य नाथ की शिक्षा (Yogi Adityanath Education) 

उन्होंने अपनी प्राथमिक शिक्षा पौड़ी और ऋषिकेश के स्थानीय स्कूलों से प्राप्त की। उन्होंने हेमवती नंदन बहुगुणा गढ़वाल विश्वविद्यालय, उत्तराखंड से पढ़ाई की और 1992 में गणित में स्नातक की डिग्री प्राप्त की।

योगी आदित्य नाथ का शुरुआती जीवन ( Yogi Adityanath Early Life )

1990 के दशक के मध्य में उन्होंने अयोध्या राम मंदिर आंदोलन में शामिल होने के लिए अपना घर छोड़ दिया। वहां, उनकी मुलाकात गोरखनाथ मठ के पूर्व महंत (मुख्य पुजारी) महंत अवैद्यनाथ से हुई, जिन्हें उन्होंने देखा और उनसे प्रेरणा ली।

Yogi Aadityanath Biography
Yogi Aadityanath Biography

योगी के पिता बताते थे कि उनके अंदर बचपन से ही समाज सेवा करने का जज्बा था. साल 1993 में वो महंत अवैद्यनाथ के संपर्क में आए. योगी महंत अवैद्यनाथ से प्रभावित होकर उनकी शरण में गोरखपुर चले गए. महंत अवैद्यनाथ से उन्होंने दीक्षा प्राप्त की और वो संन्यासी बन गए. इस तरह उनका नाम अजय सिंह बिष्ट से बदलकर योगी आदित्यनाथ हो गया. महंत अवैद्यनाथ के निधन के बाद योगी को महंत बना दिया गया. गुरु अवैद्यनाथ ने सन 1998 में राजनीति से संन्यास लिया और योगी आदित्यनाथ को अपना उत्तराधिकारी घोषित कर दिया.

योगी आदित्य नाथ का राजनैतिक करियर (Yogi Adityanath Political Career)

योगी का राजनीतिक सफर 1996 में शुरू हुआ जब उन्हें महंत अवैद्यनाथ के चुनाव अभियान के प्रबंधन की जिम्मेदारी सौंपी गई।

साल 1998 में, जब महंत अवैद्यनाथ सेवानिवृत्त हुए, तो उन्होंने गोरखपुर सीट से आदित्यनाथ को नामित किया। योगी ने गोरखपुर से लोकसभा चुनाव लड़ा और जीत हासिल की। वह 26 साल की उम्र में 12वीं लोकसभा में सबसे कम उम्र के सांसद थे।

इसके बाद, योगी ने 1998 से 2014 तक लगातार 5 बार लोकसभा चुनाव जीता। साल 2014 के लोकसभा चुनाव में योगी ने 1,42,309 मतों के अंतर से चुनाव जीता था। आदित्यनाथ योगी अपने निर्वाचन क्षेत्र के काफी लोकप्रिय राजनेता हैं।

एक सांसद के रूप में, उन्हें वर्षों से कई समितियों में सदस्य के रूप में शामिल किया गया, जैसे कि खाद्य, नागरिक आपूर्ति, चीनी और खाद्य तेल विभाग , गृह मंत्रालय की सलाहकार समिति, परिवहन, पर्यटन और संस्कृति समिति, विदेश मामलों की समिति और कई अन्य।

साल 2017 में, भाजपा ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में भारी जीत के साथ जीत हासिल की। योगी आदित्यनाथ को 18 मार्च 2017 को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में घोषित किया गया था। उन्होंने अगले दिन 19 मार्च 2017 को शपथ ली।

 

गोरखपुर से लगातार पांच बार सांसद रहे

यही से योगी की राजनीति में एंट्री हुई. 1998 में बीजेपी की टिकट पर 26 साल के योगी गोरखपुर से चुनाव लड़े और जीत गए. उस समय वो लोकसभा में सबसे कम उम्र के सांसद थे. इसके बाद वो 1999 में फिर सांसद चुने गए. 2004 वो फिर चुनाव लड़े और जीते. इसके बाद 2009 और 2014 में वो फिर लोकसभा पहुंचे.

2017 में बने मुख्यमंत्री

योगी का पूर्वांचल में अच्छी पकड़ मानी जाती है. यही वजह है कि साल 2017 के विधानसभा चुनाव में योगी स्टार प्रचारक बनाया गया. विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने बंपर जीत भी हासिल की. बीजेपी नेतृत्व ने बड़ा फैसला लेते हुए योगी को मुख्यमंत्री की कुर्सी सौंपी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here